Planning बनाते समय Positive Attitude जरूरी क्यों है?

इस दुनिया का प्रत्येक व्यक्ति खुश (Happy) रहना चाहता है। खुश रहने का सबसे अच्छा तरीका सच्ची सफलता (True success) को प्राप्त करना होता है। जो व्यक्ति अपनी मनचाही सफलता प्राप्त कर लेता है, उसे सबसे अधिक खुशी प्राप्त होती है।

सफलता पाने के लिए कोई भी व्यक्ति बहुत से ऐसे कार्य करता है जो सफल होने के लिए बहुत जरुरी होते हैं। इन में से एक कार्य सफलता के लिए योजना (Planning of Success) बनाना होता है। बिना प्लानिंग के कोई भी सक्सेस प्राप्त नहीं की जा सकती।

planning with positive attitude in hindi
Planning With Positive Attitude

यह बात उसी प्रकार से सही है जिस प्रकार बिना हवा के सांस नहीं ली जा सकती। यदि सांस लेना है तो हवा सबसे जरुरी है, इसी प्रकार यदि Success होना है तो Planning सबसे जरुरी है।

सफलता पाने के लिए जब भी हम कोई प्लानिंग बनाते हैं तो हमें सफलता तक पहुँचने का एक रास्ता (way) मिल जाता है अर्थात planning सफलता पाने के लिए एक रास्ता तैयार करती है।

प्लानिंग से ही हम जान सकते हैं कि सफलता पाने के लिए कोई काम कब करना है, कहाँ करना है और कैसे करना है।

planning के बिना सफलता की इच्छा रखने वाला व्यक्ति एक ऐसी ट्रैन के समान है जो चल तो रही है लेकिन उसे जाना कहाँ है, कब तक चलना है और किस स्पीड से चलना है, यह कुछ भी नहीं पता होता।

अब आप ही सोचिये कि ऐसी ट्रैन का आखिर क्या होगा? सीधा सा उत्तर है कि वह कहीँ भी पहुँचे लेकिन वहां नहीं पहुँचेगी जहाँ उसे पहुँचना चाहिए था। अतः success के लिए एक planning का होना बहुत जरुरी होता है।

लेकिन अब यहाँ एक प्रश्न यह भी आता है कि क्या एक अच्छी योजना (good planning) बना लेना ही सफलता प्राप्त करने की गारंटी है?

यदि ऐसा है तो वह सभी लोग जो planning बनाते हैं, सभी को सक्सेस जरूर मिलनी चाहिए लेकिन सभी जानते हैं कि एक अच्छी प्लानिंग बना लेने के बाद भी बहुत से लोग असफल (failure) हो जाते हैं। आखिर ऐसा क्यों होता है?

आइये मैं आपको इसका उत्तर बताता हूँ और एक सही और कारगर तरीका भी बताता हूँ जिससे आप जान पाएंगे कि सफलता के लिए किस प्रकार की प्लानिंग बनानी चाहिए?

लेकिन सबसे पहले मैं ऐसे तीन प्रकार के लोगों के बारे में बताना चाहता हूँ जो success के लिए planning तो बना लेते हैं लेकिन बाद में इसे follow किस प्रकार करते हैं, यहीं पर उनके सफल होने का राज (secret of success) छिपा होता है—

1- सबसे पहले वह लोग होते हैं जो प्लानिंग तो बहुत अच्छी बनाते हैं लेकिन उसे follow कभी नहीं कर पाते। ऐसे लोग सोचते हैं कि कल से शुरू करूँगा, next week से शुरू करूँगा या अमुक काम हो जाये तो शुरू करूँगा। लेकिन उनके जीवन (life) में ऐसा दिन कभी नही आ पाता और ऐसे लोग “प्लानिंग आज से शुरू क्यों न करें?”, यह बहाने (Excuses) सोचते रहते हैं।

2- दूसरे तरीके के वह लोग होते हैं जो बहुत अच्छी प्लानिंग बनाते हैं और उसे अगले ही दिन से ही follow करना शुरू कर देते हैं लेकिन जैसे जैसे दिन गुजरते जाते हैं, वैसे वैसे उनकी प्लानिंग दम तोड़ने लगती है और बीच रास्ते में ही या तो प्लानिंग बदल जाती है या मंजिल (goal) ही बदल जाती है। ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि प्लानिंग बनाते समय और उसे follow करते समय उनका उस प्लानिंग के प्रति positive attitude न होकर negative attitude होता है।

3- तीसरे तरीके के वह लोग होते हैं जो सफल होने के लिए एक बेहतरीन योजना (Best Plan) बनाते हैं और इसे बनाते समय उनका दृष्टिकोण (attitude) भी सकारात्मक (positive) होता है। ऐसे लोग प्लानिंग को जिस ऊर्जा (energy) के साथ शुरू करते हैं, उसी ऊर्जा के साथ हमेशा follow करते जाते हैं। समय व्यतीत होने के साथ उनकी energy कम नहीं होती क्योंकि ऐसे लोग सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ अपनी प्लानिंग (planning with positive attitude) की शुरुआत करते हैं और एक fix time के बाद सफलता उनके कदम चूमती है।

ऊपर बताये गए तीनों लोगों के बारे में जानने के बाद आप समझ गए होंगे कि सक्सेस पाने के लिए यदि आप एक प्लानिंग बनाते हैं तो आपको क्या करना चाहिए।

आप जान चुके होंगे कि एक अच्छी योजना बनाने के बाद आपको क्या तरीका अपनाना चाहिए ताकि सफलता आपके कदमो को चूम सके।

अर्थात सफलता प्राप्त करने के लिए planning के साथ ही साथ एक चीज की और जरुरत होती है और वह है– Positive Attitude

यह सच है कि इस दुनिया के सबसे सफल लोग (successful people), सबसे अमीर लोग (rich people) और सबसे ज्यादा नाम कमाने वाले लोग (famous people) अपनी आज की सफल जिंदगी इसीलिए प्राप्त कर सके हैं क्योकि उन्होंने इसे पाने के लिए कभी Positive Attitude के साथ एक good planning बनायी थी और Positive Attitude के साथ ही उसे follow किया था। यह काम वह आज भी करते हैं ताकि सफलता के शिखर (top of success) पर वह निरंतर चढ़ते चले जाएं।

आज जो भी सफल लोग हैं चाहे वह सचिन तेंदुलकर हो या विराट कोहली हो, अनिल अंबानी हो या बिल गेट्स हो, कोई भी सफल व्यक्ति हो, सभी में एक common habit होती है, वह है– सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ योजना बनाना और उसे फॉलो करना (Planning with Positive Attitude)

अतः आपको यहाँ एक सफलता का सूत्र (success formula) मिलता है–

अच्छी योजना + सकारात्मक दृष्टिकोण = सफलता

Good Planning + Positive Attitude = Success

प्रत्येक successful person के mind में यह फार्मूला जरूर होता है। यदि आप भी सफल होना चाहते हैं तो आपको भी इस सफलता के सूत्र को अपने mind में रखना चाहिए।

आपका positive attitude ही आपको वह positive energy देता है जो प्लानिंग को पूरा करने के लिए आपको हमेशा जरुरत होती है।

आपका यही attitude आपको वह positive thinking देता है जो सफलता को प्राप्त करने के रास्ते में आयी problem को दूर करते समय आपको चाहिए।

अब चाहें आपको life planning बनानी हो या future planning बनानी हो, चाहें आप career planning बना रहे हों या कोई business planning बना रहे हों, आपको सबसे पहले अपनी प्लानिंग को एक बेहतरीन प्लानिंग में बदलना होगा और उसे positive attitude रखते हुए follow करना है। अगर आप ऐसा कर पाए तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

————-*******———— 

दोस्तों! यह Best Inspiring Article आपको कैसा लगा? यदि यह Hindi Article on “Good Planning with Positive Attitude for Success in Life” आपको अच्छे लगे तो आप इस हिंदी लेख को Share कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त आप अपना Comment दे सकते हैं और हमें E.Mail भी कर सकते हैं।

यदि आपके पास Hindi में कोई Article, Motivational story, Life Tips, Hindi Quotes, Money Tips या कोई और जानकारी है और यदि आप वह हमारे साथ Share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें E-mail करें। हमारी E.Mail Id है– [email protected] यदि आपकी Post हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ अपने ब्लॉग पर Publish करेंगे। Thanks!

18 thoughts on “Planning बनाते समय Positive Attitude जरूरी क्यों है?”

  1. इस बात में कोई दो राय नही है की सही प्लानिंग से हम जान सकते है के काम कैसे और कब करना है जो सही प्लानिंग से काम करता है वो कभी मात नही खाता है बहुत अच्छी स्टोरी है लगे रहो

    Reply
  2. सच में सफलता का मार्ग एक यात्रा की तरह ही तो है । बिना पर्याप्त तैयारी के गंतव्य तक पहुँचना बहुत ही कठिन है ।

    Reply
  3. Thanks Amul ji for sharing secrets of success. It’s true that our mental attitude plays a important role in achieving our goals.

    Reply
  4. अमुल जी, सफलता का बहुत ही अच्छा सुत्र बताया है आपने। अच्छी योजना + सकारात्मक दृष्टिकोन = सफलता। सफलता पाने के लिए ये दोनों चिजे बहुत ही जरुरी है।

    Reply
  5. अमूल जी आपके हर पोस्ट लाजवाब होते हैं। इन्हें पढ़कर मेरे अंदर काफी सकारात्मकता आई और मैंने महसूस किया कि मैं काफी सकारात्मक होकर सोचने लगा हूं। आपके बहुत-बहुत धन्यवाद

    Reply
    • Dhanyavad Durga Pandey ji…..aapki soch me positive change aaya….accha laga ki hamare regular readers ko fayeda ho raha hai……..

      Reply
  6. Formula Of Success (S)
    GP+PA=S

    bahut badhiya Amul Ji….. vaise to formulas yaad krna bhut mushkil lgte hai lekin aapne to success ka formula bta diya…..:)
    agar kisi ki good planning hai aur veh haar na maane to success mil hi jayegi kyki success vo mukaam hai jaha par hume lge hum iske aage nahi badh skte, lekin jiski manjil hi limitless ho aur kbhi haar na manna ho to use success milegi hi milegi. aur yahi planning bhi honi chahiye ki hmesha aage badhte rehna….ek pehle bada target socho fir use divide krdo ki pehle itna complete krna uske bd itna…. fir aage badhte hi chale chlo….
    Dhanywaad aapka……

    Reply
  7. kya jabarjast lekh likha hai aapne. wakai me seedha aur simple rasta success pane ka

    good planning + positive attitude = definite success

    Reply

Leave a Comment