10 Characteristics Of Entrepreneurship In Hindi

सफल उद्यमी की अपनी कुछ विशेषताएं (Characteristics Of Entrepreneurship) होती है। अपनी इन्हीं विशेषताओं के कारण कोई Entrepreneur कुछ नया और अच्छा करके लोगों की मदद कर पाता है।

भारत में करोड़पति (Millionaire) बनने के कई रास्ते हैं और उनमें से एक बेहतरीन रास्ता है- Entrepreneurship अर्थात उद्यमिता।

characteristics of entrepreneurship hindi
Characteristics Of Entrepreneurship

उद्यमिता क्या होती है? (What Is Entrepreneurship) और उद्यमी कौन होता है? (Who Is an Entrepreneur), इसके बारे में मैं आपको अपने आर्टिकल “What is Entrepreneurship in Hindi” में बता चुका हूँ।

यदि आप एक जॉब न करके Entrepreneur बनना चाहते हैं तो आपके अंदर कुछ ऐसी योग्यताएं होनी चाहिए जो Entrepreneurship के लिए सबसे जरुरी होती हैं।

यदि आपके अंदर एंटरप्रेन्योर बनने की योग्यता (Ability Of Entrepreneurship) नहीं है तो कोई चिंता की बात नहीं है। एंटरप्रेन्योर की विशेषताओं (Characteristics Of Entrepreneurship) को आप सीख सकते है और अपने अंदर develop भी कर सकते हैं।

यदि आप अपने सपनों को पूरा करना चाहते हैं और साथ ही लोगों की हेल्प करना चाहते हैं तो आपको Entrepreneur जरूर बनना चाहिए।

आइये आज मैं आपको बताऊंगा कि उद्यमिता के लक्षण क्या होते हैं (What are the Characteristics Of Entrepreneurship) ताकि आप खुद की खूबियों के बारे में पता चल सके।

यदि आपमें उद्यमिता के लक्षण (Characteristics Of Entrepreneurship) नहीं हैं या बहुत कम हैं तो आज ही से इनको Develop करना शुरू कर दीजिये।

सफल उद्यमी की विशेषताएं

Characteristics Of Entrepreneurship In Hindi

कृपया इन Characteristics Of Entrepreneurship In Hindi को आप बहुत ध्यान से पढ़िए और पढ़ने के बाद अपने मन में ठान लीजिये कि कुछ भी हो जाये आपको एक सफल एंटरप्रेन्योर बनना ही है–

1- Ability To Take Risk

(रिस्क लेने की क्षमता)

कोई भी Entrepreneur जब किसी नए आईडिया पर कार्य करना शुरू करता है तो उसके सक्सेसफुल होने के चांस इस बात पर निर्भर करते हैं कि लोग उसके द्वारा दिए गए प्रोडक्ट या सर्विस को पसंद करेंगे या नहीं।

नए आईडिया को लेकर कोई Entrepreneur पहले से Sure नहीं हो सकता इसलिए रिस्क बहुत बढ़ जाता है। साथ ही Entrepreneurship में कदम कदम पर नयी चुनौतियों (challenges) का सामना करना होता है।

यदि एंटरप्रेन्योर के अंदर जोखिम लेने की क्षमता नहीं होगी तो उसका New Idea कभी भी fail हो सकता है।

2- Innovation Ability

(नवाचार की योग्यता)

किसी प्रोडक्ट या किसी सर्विस में कुछ नया करके उसे और अच्छा, सरल और Useful बनाना ही नवाचार कहलाता है। यदि किसी व्यक्ति के अंदर ऐसी योग्यता हो जिसमे वह किसी Product को या किसी Service में मौजूद किसी कमी को खोज सके और उस कमी को सही कर नए रूप में ला सके या उसे नयी टेक्नोलॉजी के साथ अपग्रेड कर सके तो ऐसा व्यक्ति एंटरप्रेन्योर बनने की योग्यता (Ability Of Entrepreneurship) रखता है।

आप भी अपने आस पास कुछ ऐसा खोजिये जिसमे आप नवाचार (Innovation) को खोज सकें।  ऐसा करना ज्यादा कठिन नहीं है, आपमें इसकी योग्यता है, आप सोचना शुरू तो कीजिये।

3- Ability of Future Vision

(भविष्य की दृष्टि की योग्यता)

किसी Entrepreneur की एक बहुत बड़ी योग्यता Future Vision का होना है। बहुत से लोग किसी ऐसे प्रोजेक्ट पर कार्य करते हैं जिसमे बनने वाले प्रोडक्ट या जिसमे दी जाने वाली सर्विस की निकट भविष्य में लोगों को जरुरत होने वाली है।

ऐसा करना कोई जादू नहीं है बल्कि कोई भी व्यक्ति वर्तमान का एनालिसिस करे तो ऐसी सर्विस या प्रोडक्ट का पता लगा सकता है और उस पर work करके एक Successful Entrepreneur बन सकता है।

4- Leadership Ability

(लीडर बनने की योग्यता)

कोई भी व्यक्ति अकेला, Entrepreneurship का पार्ट नहीं हो सकता। किसी नए आईडिया को प्रोडक्ट या सर्विस में बदलकर उसे लोगों तक पहुंचाने के लिए एंटरप्रेन्योर को बहुत से लोगों (Team) की सहायता की जरुरत होती है।

कोई Entrepreneur अपने Leadership की योग्यता की वजह से ही एक अच्छी और रिजल्ट देने वाली टीम तैयार कर सकता है। Leadership Ability कुछ लोगों में जन्म से ही होती है और यदि नहीं होती है तो उसे Develop किया जा सकता है।

5- Ability of “Quickly Recover”

(जल्दी से रिकवर होने की योग्यता)

Entrepreneurship में जगह जगह पर चुनौतियाँ आती है। एक एंटरप्रेन्योर को इन चुनौतियों को सामना करना आना चाहिए। कई बार कई समस्याएं एक साथ आ जाती हैं या कोई बड़ी समस्या आ जाती हैं।

एक सफल उद्द्यमी की योग्यता (Characteristics Of Entrepreneur) यह होती है कि वह इन समस्याओं से जल्दी से जल्दी रिकवर कर लेता है। आपके द्वारा दिए जा रहे प्रोडक्ट या सर्विस के Up या Down को आप जितनी जल्दी रिकवर कर लेंगे, आप उतने ही अच्छे Entrepreneur कहे जायेंगे और अपने कार्य में सफलता प्राप्त करेंगे।

6- Ability of “Right Decision at Right Time”

(सही समय पर सही निर्णय लेने की योग्यता)

उद्यमिता का एक लक्षण (Characteristics Of Entrepreneurship) यह भी होता है कि सही समय पर सही निर्णय लिया जाये। यदि आप कोई सर्विस देने जा रहे हैं तब आपको पता होना चाहिए कि यह सर्विस कब से दी जाये? कहाँ पर दी जाये? और उस सर्विस को कौन लोग ले सकते हैं?

आपका प्रत्येक सही निर्णय आपकी सफलता को एक कदम आगे बढ़ा देगा और आपका एक गलत निर्णय आपको एक कदम पीछे कर देगा। जो भी निर्णय लें वह बिलकुल सही हो और उस टाइम लिया जाये जब उसकी जरुरत हो तो आप एक सफल एंटरप्रेन्योर बन सकते हैं।

7- Ability of Money Management

(पैसों को मैनेज करने की योग्यता)

उद्यमिता की योग्यता (Characteristics Of Entrepreneurship) में Money Management एक बहुत महत्वपूर्ण योग्यता होती है। एक Entrepreneur कोई नया प्रोडक्ट या सर्विस देकर लोगों की मदद करता है और बदले में Profit लेता है।

Entrepreneurship में Money का Management करना अर्थात कितना Money Investment होना है या कितना Money Expenditure होना है या कितना Profit हो रहा है। पैसा कहाँ कहाँ से आएगा, कहाँ कहाँ जायेगा, Revenue कब और कितना बढ़ाना चाहिए आदि का एक Perfect Budget बनाना ही एक सफल एंटरप्रेन्योर की पहचान है।

8- Selling Skills

(बेचने की योग्यता)

एक अच्छा Entrepreneur अपने बनाये गए प्रोडक्ट या सर्विस को बेचना बहुत अच्छी तरह जानता है। यदि आप कोई सर्विस देने जा रहे हैं तो आपको यह तो पता होना ही चाहिए कि आपकी सर्विस को लेने वाले कौन लोग हो सकते हैं और कहाँ मिलेंगे। लेकिन साथ में आपको यह भी पता होना चाहिए कि उन लोगों को आप अपनी सर्विस बेचेंगे कैसे?

एक सेल्समेन अपने प्रोडक्ट को उन लोगों को बेचता है जिन्हें उसकी जरुरत होती है लेकिन एक सफल एंटरप्रेन्योर वह होता है जो अपने प्रोडक्ट को जरुरत वाले लोगों के साथ साथ उन लोगों को भी बेच देता है जिन्हें उसकी जरूरत नहीं होती या उस समय जरुरत नहीं होती। ऐसे Entrepreneurs में उस प्रोडक्ट या सर्विस के लिए लोगों के अंदर जरुरत (Need) पैदा करने की योग्यता होती है।

9- Result Oriented Activities

(परिणाम देने वाले कार्य)

एक अच्छा Entrepreneur केवल यह नहीं देखता कि कार्य कैसे होना है बल्कि वह कार्य के साथ साथ उससे मिलने वाले रिजल्ट पर ज्यादा फोकस करता है। अच्छे रिजल्ट पर फोकस होने से वह उन सभी सही कार्यों और एक्टिविटीज को कर पाता है जो अच्छे परिणाम देते हैं।

वैसे भी कार्य से ज्यादा रिजल्ट अपनी इम्पोर्टेन्स रखता है। एक सफल उद्द्यमी की योग्यता (Characteristics Of Entrepreneurship) Working Team को भी Result Oriented Activities करने की प्रेरणा देता है और उन्हें समय समय पर चेक भी करता रहता है।

10- Self Motivated Person

(स्वयं प्रेरित व्यक्ति)

Entrepreneur एक Self Motivated Person होता है। उसे बाहर के किसी Motivation की कभी जरुरत नहीं होती बल्कि उसके Goals, उसका जुनून, उसकी Will Power में इतनी ताकत होती है कि जरुरत होने पर वह खुद को स्वयं ही प्रेरित कर लेता है। वह Self Motivated होता है और इसी वजह से वह अपनी Team को Motivate रख पाता है।

ऐसा व्यक्ति कहीं भी, किसी भी समय, किसी भी परिस्थिति में सफलता हासिल कर सकता है। यदि आप एक Successful Entrepreneur बनना चाहते हैं तो Self Motivated होना सीख लीजिये।

उद्यमिता क्या होती है? (What Is Entrepreneurship) और उद्यमी कौन होता है? (Who Is an Entrepreneur), जानने के लिए आप हमारा यह आर्टिकल पढ़ सकते हैं– 🙂

What is Entrepreneurship in Hindi

————-*******————

दोस्तों! यह Characteristics Of Entrepreneurship In Hindi आपको कैसा लगा? यदि यह Hindi Article on “Characteristics Of Entrepreneur” आपको अच्छा लगा तो आप इन हिंदी लेख को Share कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त आप अपना Comment दे सकते हैं और हमें E.Mail भी कर सकते हैं।

यदि आपके पास Hindi में कोई Article, Inspiring story, Life Tips, Inspiring Poem, Hindi Quotes, Money Tips या कोई और जानकारी है और यदि आप वह हमारे साथ Share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें E-mail करें। हमारी E.Mail Id है– [email protected] यदि आपकी Post हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ अपने ब्लॉग पर Publish करेंगे। Thanks!

3 thoughts on “10 Characteristics Of Entrepreneurship In Hindi”

Leave a Comment